लाल महल पर सर्जिकल स्ट्राईक ( 89)
१०. शिवाजी महाराजांच्या लढाया
0
Details

शाईस्ताखान मरते मरते बच गया। बाद में ३१ साल जिंदा रहा, पर उसकी टूटू उंगलियां हर काम में उसे शिवाजी महाराज की याद दिलाती रही

More in category

Get Premium Website Themes
for your Desktop

Redirecting to Web Console in 3 secs